Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सपा में विलय के लिए तैयार नहीं मुख्तार, गठबंधन पर करेंगे विचार

 Abhishek Tripathi |  2016-08-23 08:52:33.0

mukhtar_ansariतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. कौमी एकता दल का समाजवादी पार्टी (सपा) में विलय नहीं होगा। इस बात का खुलासा स्वयं माफिया डॉन मुख्तार अंसारी ने किया है। आज यूपी विधानसभा सत्र के बाद कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव और मुख्तार के बीच करीब आधे घंटे तक बातचीत हुई। इस मुलाकात के बाद मुख्तार ने मीडिया को बताया कि कौती एकता दल सपा में विलय नहीं करेगी। मुख्तार ने ये भी कहा कि हमारी पार्टी किसी भी राजनीतिक दल में विलय के लिए तैयार नहीं है। वहीं, मुख्तार ने गठबंधन करने की बात पर सहमति जताई है।


गौरतलब है कि कौमी एकता दल का 21 जून को समाजवादी पार्टी में शिवपाल यादव ने विलय कराया था, जो रद्द हो गया था। हालांकि, उस समय पार्टी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी सपा में शामिल नहीं हुए थे। उस समय कहा गया था कि अखिलेश यादव इस विलय के पक्ष में नहीं थे।


कौमी एकता दल के सपा में विलय के बाद मुलायम सिंह यादव के परिवार में विवाद भी हो गया था। इस फैसले से नाराज अखिलेश यादव को मनाने के लिए शिवपाल यादव उनके घर पहुंच गए थे। इसके बाद मुलायम भी बेटे अखिलेश के फैसले से नाराज हो गए थे, लेकिन अखिलेश ने पार्टी इमेज को देखते हुए कौमी एकता दल से किनारा कर लिया था और पार्टी ने विलय रद्द कर दिया था।


उल्लेखनीय है कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी साल 1996 में मऊ सीट से बसपा के टिकट पर विधायक चुने गए थे। साल 2002 और 2007 के विधानसभा चुनाव में भी निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर जीत हासिल की। साल 2012 के चुनाव के पूर्व मुख्तार ने कौमी एकता दल का गठन किया। कौमी एकता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुख्तार के बड़े भाई पूर्व सांसद अफजाल अंसारी हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top