Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

राहुल बनाम मोदी रहा गुरुवार का दिन, खूब छूटे शब्दों के बाण

 Tahlka News |  2016-12-22 14:53:07.0

modi-vs-rahul

तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. नोटबंदी के सवाल पर राहुल ने पीएम मोदी के खिलाफ रिश्वत के आरोप लगाए थे तब ही ये उम्मीद की जा रही थी कि मोदी इसका माकूल जवाब देंगे और गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे नरेंद्र मोदी ने यह काम बखूबी किया. प्रधान मंत्री मोदी ने राहुल का नाम लिए बगैर खूब व्यंग बाण चलाये, उन्होंने मजाकिया अंदाज में राहुल पर कई कटाक्ष किए वहीं मनमोहन सिंह पर भी निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा कि एक युवा नेता भाषण देना सीख रहा है. अब लग रहा है 2009 का पैकेट खुल गया है और मुझे उनकी इस तरक्की से ख़ुशी हो रही है. इशारो इशारो में वे राहुल को डिब्बा भी कह गए और कहा कि जबसे उन्‍होंने बोलना सीखा है तबसे मेरी खुशी का अंदाजा नहीं है, पीएम ने राहुल के भूकंप वाले बयांन पर चुटकी लेते हुए कहा कि अगर वे न बोलते तो भूकंप आ जाता.


जिस वक्त मोदी वाराणसी में राहुल पर व्यंग बाण छोड़ रहे थे उसके तुरंत बाद बहराईच में राहुल गाँधी ने पीएम को एक बार फिर निशाने पर ले लिया. राहुल गांधी के निशाने पर यहां मोदी थे. नरेन्द्र मोदी को चुनौती देते हुए राहुल ने कहा कि “मैंने मोदी जी से उनके भ्रष्टाचार पर सवाल पूछा था उन्होंने मेरा मजाक उड़ाया. उनको देश के युवाओं को जवाब देना पड़ेगा. नोटबंदी का फैसला भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं है बल्कि आम लोगों के खिलाफ है. इस सरकार ने कतार में खड़े आम लोगों को चोर साबित कर दिया.”

संसद में घेरने में नाकाम रहे राहुल अब सभाओं में मोदी को घेरने की कोशिश में हैं. सियासत का अखाडा बन चुके उत्तर प्रदेश में आने वाले दिनों में राहुल गांधी यूपी के अलग अलग जिलो में सभाए करेंगे और नोटबंदी के साथ साथ नरेन्द्र मोदी के भष्टाचार को भी मुद्दा बना कर उनकी साफ़ सुथरी छवि को डैमेज करने की रणनीति पर आगे बढ़ेंगे. गुरुवार को भी राहुल ने मोदी से पैकेटो का राज पूछा. उन्होंने कहा कि आप कुछ भी बोलिए मोदी जी मगर उन पैकेटो का राज बता दीजिये.

राहुल शुरू से ही मोदी को अमीरों का हितैषी और गरीबो का विरोधी बताते रहे हैं. उन्होंने केंद्र सरकार को सूट बूट की सरकार बताया था और तब से वे हर बार यह लाईन आगे बढ़ाते रहे हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top