Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

RBI ने ब्याज दरों में की कटौती

 Tahlka News |  2016-04-05 05:57:21.0

108359-rbi

तहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली, 5 अप्रैल. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को रेपो दर में 25 आधार अंकों की कटौती की। इस कटौती के साथ आरबीआई की रेपो दर 6.75 फीसदी से घटकर 6.50 फीसदी हो गई। वहीं बैंक ने रिवर्स रेपो दर में 25 आधार अंकों की वृद्धि कर इसे 5.75 फीसदी से छह फीसदी कर दिया।

रेपो दर वह दर होती है, जिस पर आरबीआई वाणिज्यिक बैंकों को लघु अवधि के लिए ऋण देता है। रिवर्स रेपो दर वह दर है, जो आरबीआई वाणिज्यिक बैंकों से लघु अवधि के लिए ली जाने वाली राशि पर देता है।

आरबीआई ने नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) को हालांकि चार फीसदी पर बरकरार रखा। सीआरआर का मतलब वह आनुपातिक राशि है, जो वाणिज्यिक बैंकों को कुल जमा के मुकाबले तरल कोष के रूप में अपने पास बरकरार रखना होता है।


सीआरआर का दैनिक न्यूनतम संरक्षण हालांकि 95 फीसदी से घटाकर 90 फीसदी कर दिया गया है।

इसी प्रकार दो अप्रैल और उसके बाद से सांविधिक तरलता अनुपात (एसएलआर) को 21.25 फीसदी पर रखा गया है। एसएलआर का अर्थ यह है कि एक वाणिज्यिक बैंक को इतने मूल्य की निर्दिष्ट प्रतिभूतियां रखनी होती हैं।

आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन ने अपने मौद्रिक नीति बयान में कहा, "महंगाई दर अनुमान के अनुरूप रही है और जनवरी 2016 के लिए तय किए गए लक्ष्य से यह थोड़ी कम है।" राजन ने यह भी कहा कि उपभोक्ता महंगाई दर में थोड़ी गिरावट आएगी और यह वर्तमान वित्त वर्ष में करीब पांच फीसदी बनी रहेगी।

उन्होंने कहा, "उन्होंने कहा कि लगातार दो कमजोर मानसून के बाद इस साल सामान्य मानसून से आपूर्ति की स्थिति अनुकूल रहेगी, जिससे गांव में मांग बढ़ेगी और कृषि उत्पादों की आपूर्ति भी बढ़ेगी, जिससे महंगाई दर भी प्रभावित होती है।"

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top