Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

लखनऊ की इस मस्जिद में जायेंगे मोहन भागवत

 Sabahat Vijeta |  2016-03-29 14:46:12.0

mohan-bhagwat-2तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ, 29 मार्च. रायबरेली रोड स्थित माधव आश्रम में आज संघ प्रमुख मोहन भागवत और आल इंडिया मुस्लिम महिला पर्सनल लॉ बोर्ड की अध्यक्ष शाइस्ता अम्बर आमने-सामने आये तो धार्मिक एकता की गज़ब की तस्वीर नज़र आई. शाइस्ता अम्बर ने मोहन भागवत से कहा कि आपके बुलावे पर मैं माधव आश्रम में आई हूँ तो आप भी मेरे बुलावे पर यहीं पास में बनी मस्जिद में चलिए. उस मस्जिद में महिलायें नमाज़ अदा करती हैं. काफी व्यस्त कार्यक्रम के नाते श्री भागवत ने इस बार तो जाने में असमर्थता जताई लेकिन वादा किया कि अगली बार लखनऊ आऊंगा तो उस मस्जिद में ज़रूर आऊंगा.


राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत दो दिन की यात्रा पर लखनऊ में थे. आज रायबरेली रोड स्थित माधव आश्रम में नवनिर्मित 24 कक्षों का लोकार्पण करने गए थे. यहाँ उन्होंने कहा कि यह कक्ष अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों के तीमारदारों के लिए हैं. यहाँ पर हर धर्म के तीमारदारों को बगैर कोई भेद किये ठहरने दिया जाए. उन्होंने कहा कि मरीज़ की सेवा बहुत बड़ी सेवा है और जो मरीज़ का तीमारदार है उसकी सुख-सुविधा का ध्यान रखा जाना चाहिए. इस कार्यक्रम में आल इंडिया मुस्लिम महिला पर्सनल लॉ बोर्ड की अध्यक्ष शाइस्ता अम्बर को भी आमंत्रित किया गया था. शाइस्ता अम्बर ने कहा कि संघ प्रमुख की कोई भी बात ऐसी नहीं थी जिस पर ऐतराज़ किया जाए. उन्होंने कहा कि वह तो सौहार्द बढ़ाने की बात ही करते नज़र आये. शाइस्ता अम्बर ने बताया कि उन्हें माधव आश्रम के भूमि पूजन में भी आमंत्रित किया गया था और उन्होंने उस आश्रम के निर्माण के लिए चंदा भी दिया था. उसकी रसीद नम्बर 786 आज भी उनके पास सुरक्षित रखी है.


मोहन भागवत ने शाइस्ता अम्बर से कई मुद्दों पर बातचीत की और इस बात पर जोर दिया कि किसी पर भारत माता की जय बोलने का दबाव नहीं बनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि जिसका दिल चाहे वह भारत माता की जय बोले और जिसका न चाहे वह न बोले. इसमें जिद जैसी कोई बात नहीं है. शाइस्ता अम्बर ने कहा कि कोई भारत माता कहता है तो कोई मादरे वतन. मादरे वतन की जय बोलने में कोई ऐतराज़ होना भी नहीं चाहिए. यह ऐतराज़ सस्ती राजनीति करने वाले करते हैं. शाइस्ता अम्बर ने यहाँ भारत माता की जय के नारे भी लगाए. शाइस्ता अम्बर ने मोहन भागवत से कहा कि 1400 साल पहले हज़रत इमाम हुसैन ने कर्बला में दुनिया को मोहब्बत की दावत दी थी. वही दावत मैं आपको देती हूँ. माधव आश्रम के पास मैंने एक मस्जिद तामीर कराई है जिसमें महिलायें भी नमाज़ अदा करती हैं. आप अगर उसमें चलेंगे तो समाज में सौहार्द का सन्देश जाएगा.


मोहन भागवत ने कहा कि समाज के लिए सौहार्द बहुत ज़रूरी है. मैं भी चाहता हूँ कि सौहार्द बढ़े. उन्होंने कहा कि इस बार बहुत टाईट शेड्यूल है. अगली बार लखनऊ आऊंगा तो उस मस्जिद में ज़रूर चलूँगा.

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top