Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

रियो ओलम्पिक (बैडमिंटन) : उलटफेर की शिकार सायना ओलम्पिक से बाहर

 Abhishek Tripathi |  2016-08-14 13:31:19.0

रियो ओलम्पिकरियो डी जनेरियो.  भारत की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल रियो ओलम्पिक के नौवें दिन रविवार को अपने दूसरे ग्रुप मुकाबले में उलटफेर का शिकार हुईं और इसके साथ ही ओलम्पिक से बाहर हो गईं। पांचवीं वरीयता प्राप्त सायना को ग्रुप-जी के मुकाबले में यूक्रेन की 61वीं विश्व वरीयता प्राप्त मारिया यूलितिना ने रोमांचक मुकाबले में 21-18, 21-19 से मात दी।

रियो ओलम्पिक  (बैडमिंटन) : पहले गेम में हुआ कड़ा मुकाबला


पहले गेम में दोनों खिलाड़ियों के बीच कड़ा मुकाबला देखा गया। पांचवीं वरीयता प्राप्त सायना ने पहले गेम की अच्छी शुरुआत की और 5-1 से बढ़त ले ली। हालांकि यूक्रेन की खिलाड़ी ने जल्द वापसी करते हुए 8-8 से बराबरी कर ली।

सायना ने कुछ अच्छे शॉट खेले और चालाकी का परिचय देते हुए एक बार फिर 11-9 से बढ़त हासिल कर ली। मारिया ने कड़ी प्रतिस्पर्धा दिखाई और स्कोर फिर से 13-13 से बराबरी पर लाने में सफल रहीं।

यहां से यूक्रेन की खिलाड़ी ने 19-17 से बढ़त हासिल की और इसे बनाए रखते हुए पहला गेम 21-18 से अपने नाम किया।

मारिया ने दूसरे गेम की अच्छी शुरुआत की और पहला अंक हासिल किया, लेकिन सायना ने पलटवार करते हुए लगातार चार अंक हासिल किए और 4-1 से बढ़त ले ली। मारिया ने एक बार फिर शानदार खेल दिखाया और 4-4 से बराबरी कर ली।

सायना ने इसके बाद 7-6 से बढ़त ले ली लेकिन नेट पर शॉट मार उन्होंने इस बढ़त को गंवा दिया और मारिया को बढ़त लेने का मौका दे दिया। 9-7 से यूक्रेन की खिलाड़ी आगे थीं, लेकिन दो अंक हासिल करते हुए सायना ने वापसी भी की।

सायना के ने फिर बढ़त हासिल की और स्कोर 12-10 कर लिया। यहां से दोनों खिलाड़ियों ने जबरदस्त खेल दिखाया। कभी सायना आगे जा रही थीं तो कभी मारिया। दोनों खिलाड़ियों ने जबरदस्त प्रदर्शन किया।

एक समय दूसरे गेम में 15-17 से पिछड़ने के बाद यूक्रेन की खिलाड़ी ने 18-18 से बराबरी कर मैच को रोमांचक मोड़ पर ला दिया और 20-19 से बढ़त ले सायना को तगड़ा झटका दिया जिससे सायना उबर नहीं पाईं और मैच मैच हार कर ओलमिप्क से बाहर हो गईं।

ग्रुप जी में यूतिलिना अपने दोनों मैच जीतकर शीर्ष पर रहीं और अगले दौर में प्रवेश कर गईं, वहीं सायना एक जीत और एक हार के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। ब्राजील की लोहान्नी विसेंट एक भी मैच नहीं जीत सकीं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top