Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों का लाभ मिलने में कुछ ही घंटे बाकी

 Sabahat Vijeta |  2016-08-30 18:56:09.0

7th-pay-commission


नई दिल्ली. देश के 47 लाख से ज्यादा केन्द्रीय कर्मचारियों और करीब 53 लाख पेंशनधारियों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों और सरकार द्वारा किए गए बदलाव के बाद नई सैलरी का इंतज़ार पूरा होने में अब कुछ ही घंटे बाकी हैं. पिछले कुछ दिनों में सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट को लेकर देश भर में काफी चर्चा रही है. इंटरनेट पर भी लोगों ने इस मुद्दे पर खूब जानकारी जुटाई. इसी 29 जून को नरेन्द्र मोदी की कैबिनेट रिपोर्ट को कुछ संशोधनों के साथ स्वीकारने के फैसले के बाद से लोगों में इसे लेकर जिज्ञासाएं काफी बढ़ गई थीं.


देश भर में सभी केन्द्रीय कर्मचारियों के खाते में पहली सितम्बर को सातवें वेतन आयोग के हिसाब से बढ़ा हुआ वेतन आना है. सभी विभागों ने अपने-अपने कर्मचारियों को उनके वेतनमान के अनुरूप पे-स्लिप दे दी है. जानकारी के अनुसार केन्द्र सरकार के आदेश के अनुसार कुछ एनोमलीज की शिकायत के बाद सभी संबंधित विभागों ने अपने-अपने बोर्ड बैठा दिए हैं. इनके माध्यम से सभी की शिकायतों को दूर किया जाएगा.


बताया जाता है सितम्बर का वेतन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने से संबंधित गजट नोटिफिकेशन सरकार ने 27 जुलाई को जारी कर दिया था. सरकार की ओर से केन्द्रीय कर्मचारियों को पहले ही साफ कर दिया गया था कि उनका पूरा एरियर एक ही किश्तह में मिल जाएगा. सभी कर्माचारियों को इसका बड़ी बेसब्री से इंतजार है.


सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को 1 जनवरी 2016 से लागू किया जा रहा है और सभी कर्मचारियों को अगस्ति महीने के वेतन के साथ ही उनका पूरा एरियर भी मिल जाएगा. पहले सरकार की ओर से कहा गया था कि इसी वित्तवर्ष में यानी 2016-17 में वेतन बकाया का एरियर दिया जाएगा. लेकिन बाद में सरकार ने अपने निर्णय को बदल दिया.


सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के लागू होने से सरकारी कर्मचारियों के मूल वेतन में 2.57 गुना वृद्धि होगी. सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों की कुल संख्या करीब एक करोड़ है. वेतन आयोग की सिफारिशें 1 जनवरी 2016 से अमल में आएंगी.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top