Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सपा को लोकतान्त्रिक प्रणाली में विश्वास नहीं है

 Sabahat Vijeta |  2016-03-27 13:59:03.0

bjplogoलखनऊ, 27 मार्च. भारतीय जनता पार्टी ने आज आरोप लगाया कि समाजवादी पार्टी को स्वस्थ लोकतांत्रिक प्रणाली में विश्वास नहीं हैं। पार्टी प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने आज पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि यदि सपा सरकार के संसदीय कार्य मंत्री आजम खां को संसदीय मर्यादाओं का ज्ञान होता तो वह निहित स्वार्थों के कारण सदन से राजभवन पर कभी भी टिप्पणी न करते।


उन्होंने कहा कि स्वस्थ संसदीय मर्यादाओं का तकाजा है कि महामहिम द्वारा संसदीय कार्यमंत्री की टिप्पणी को संज्ञान में लेने के बाद सदन के नेता व सरकार के मुखिया अखिलेश यादव आजम खां को मंत्रिमण्डल से बर्खास्त करते । उन्होने समाजवादी पार्टी पर तुष्टीकरण की राजनीति का आरोप लगाते हुए कहा कि वोट की लालच में सपा के वरिष्ठ नेतागण, आजम खां को मंत्रि मण्डल से बाहर का रास्ता दिखाने के बजाय आजम खां के कृत्य का समर्थन कर रहे है और उन्हें संसदीय परम्पराओं का मर्मज्ञ तथा पुरोधा बताकर उनका बचाव कर रहे है वह स्वस्थ संसदीय परम्पराओं व मर्यादाओं की खिल्ली उडाना है।


हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि आजम खां ने इसके पूर्व में भी अपने निहित स्वार्थो के लिए तत्कालीन राज्यपाल टी.वी. राजेश्वर राव पर भी सदन से टिप्पणी की थी बाद में आजम खां को तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के साथ राजभवन जाकर माफी मांगनी पड़ी थी। अब वर्तमान महामहिम राज्यपाल के खिलाफ संसदीय कार्यमंत्री ने मर्यादाओं और परम्पराओं का उल्लंघन करते हुए सदन में जो भाषण बाजी की है वह घोर असंसदीय है। उन्होंने कहा कि संसदीय परम्पराओं का महारथी की बात तो छोड़ दे संसदीय परम्पराओं को समझने वाला और लोकतांत्रिक प्रणाली का कोई भी जानकार सदन से मर्यादा के विरूद्ध राजभवन पर टिप्पणी नहीं करेगा।


हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार के मुखिया स्वस्थ संसदीय मार्यादाओं का सम्मान करते हुए संसदीय कार्यमंत्री आजम खां को मंत्रिमण्डल से बाहर का रास्ता दिखायें।

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top