Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

विद्यार्थी बड़ा स्वप्न देखें और उसे पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करें

 Sabahat Vijeta |  2016-06-09 15:07:36.0


  • super 30उ.प्र. में गरीब छात्रों को आगे बढ़ने के लिए हर सम्भव मदद प्रदान की जा रही है

  • रोजगार के पर्याप्त अवसर दिलाने के लिए राज्य सरकार निवेश एवं बुनियादी सुविधाओं के विकास पर काम कर रही है

  • ‘सुपर 30’ के संस्थापक आनन्द कुमार के व्यक्तित्व से बहुत कुछ सीखा जा सकता है

  • मुख्यमंत्री की पहल पर ‘सुपर 30’ संस्था ने उ.प्र. के ज्यादा से ज्यादा गरीब मेधावी छात्र-छात्राओं को कोचिंग देने का फैसला लिया : आनन्द कुमार

  • मुख्यमंत्री ने ‘सुपर 30 आनन्द की संघर्ष गाथा’ (हजारों सपने एक आनन्द) तथा ‘सुपर 30 आनन्द कुमार’ पुस्तकों का विमोचन किया


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने छात्र-छात्राओं से बड़ा स्वप्न देखने और उसे पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करने का आह्वान करते हुए कहा कि परिश्रमी, संकल्पवान व्यक्ति के लिए कुछ भी असम्भव नहीं है। उन्होंने ‘सुपर 30’ के संस्थापक आनन्द कुमार का जिक्र करते हुए कहा कि उनके व्यक्तित्व से बहुत कुछ सीखा जा सकता है।


मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर ‘सुपर 30 आनन्द की संघर्ष गाथा’ (हजारों सपने एक आनन्द) तथा ‘सुपर 30 आनन्द कुमार’ पुस्तकों के विमोचन अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस मौके पर पुस्तक के लेखक बीजू मैथ्यू उपस्थित थे।


मुख्यमंत्री ने आनन्द कुमार के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इन्होंने तमाम विपरीत परिस्थितियों में गरीब बच्चों की प्रतिभाओं को निखारते हुए उन्हें जिस मुकाम पर पहुंचाने का काम किया है, वह अतुलनीय है। उन्होंने कहा कि गरीबी के कारण कभी-कभी प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को वह अवसर नहीं मिल पाता, जिसके वे हकदार होते हैं। आनन्द कुमार ऐसे विद्यार्थियों को अवसर प्रदान कर समाज और देश को मजबूत बनाने का प्रयास कर रहे हैं।


आनन्द कुमार के व्यक्तित्व पर ‘सुपर 30 आनन्द’ जैसी पुस्तक लिखने के लिए केरल के बीजू मैथ्यू की प्रशंसा करते हुए श्री यादव ने कहा कि पेशे से चिकित्सक एवं कनाडा में निवास कर रहे श्री मैथ्यू ने श्री आनन्द के जीवन चरित्र पर आधारित पुस्तक लिखकर लाखों छात्र-छात्राओं एवं नवयुवकों को मार्गदर्शन प्रदान किया है। इस पुस्तक के माध्यम से देश-दुनिया में आनन्द कुमार को जानकर लोग उनसे प्रेरणा प्राप्त करेंगे। मैथ्यू वर्तमान में कनाडा देश में रह रहे हैं, जहां के कई क्षेत्र एवं शहरों की तस्वीर भारतीयों ने अपनी मेहनत से बदल दी है। उन्होंने कहा कि कनाडा के कई क्षेत्रों में अपना पंजाब नजर आता है।


superराज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश में आर्थिक रूप से कमजोर प्रतिभाशाली बच्चों की शिक्षा के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे छात्रों को आगे बढ़ने के लिए हर सम्भव मदद प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि किसी परीक्षा में टाॅप कराने का अपना अलग आनन्द होता है, लेकिन ऐसा नहीं है कि जो लोग पीछे रह जाते हैं, वे प्रतिभा सम्पन्न नहीं होते। उन्हें केवल अपने मार्ग बदलने की आवश्यकता होती है। निश्चित रूप से इसके लिए आनन्द कुमार जैसे मेण्टर की जरूरत है। समाजवादी विचारधारा की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बिना किसी भेदभाव के 17 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को अच्छी गुणवत्ता के लैपटाॅप वितरित करने का काम किया है। इससे छात्रों में एक विशेष प्रकार का आत्मविश्वास पैदा करने में मदद मिली है।


‘सुपर 30’ संस्था को उत्तर प्रदेश से हर सम्भव मदद देने का आश्वासन देते हुए श्री यादव ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार लोकतांत्रिक व्यवस्था में यकीन करती है। इसलिए जनता के सुख-दुःख में खड़ी होने के साथ-साथ उनकी आंख और कान बनने एवं उनका दुःख-दर्द बांटने में विश्वास रखती है। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं को यथासम्भव मदद देकर उनको अपनी प्रतिभा निखारने के लिए राज्य सरकार सहयोग प्रदान कर रही है। इससे देश एवं प्रदेश को काफी लाभ होगा। उन्होंने कहा कि विभिन्न संस्थानों से निकलने वाले नौजवानों को प्रदेश में रोजगार के पर्याप्त अवसर दिलाने के लिए सरकार निवेश एवं बुनियादी सुविधाओं के विकास पर काम कर रही है। लखनऊ मेट्रो परियोजना पर तेजी से काम हो रहा है। इसके साथ ही प्रदेश के अन्य बड़े शहरों में भी मेट्रो परियोजनाएं आगे बढ़ायी जा रही हैं। इससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।


इस मौके पर मुख्यमंत्री को अलीगढ़ से समाजवादी पार्टी के विधायक जफर आलम ने विकास के प्रतीक के रूप में एक बड़ा ताला एवं नेताजी तथा मुख्यमंत्री की प्रतिमा भेंट की। साथ ही जनपद झांसी के छात्र अमिक खान ने 50 सेकेण्ड में मिट्टी से साइकिल सहित कई वस्तुएं बनाकर अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित किया। मुख्यमंत्री ने इस प्रतिभाशाली कलाकार को व्यक्तिगत तौर पर 01 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की। इस मौके पर पूर्व विधायक सरदार सिंह द्वारा वृन्दावन में स्वतंत्रता सेनानी राजा महेन्द्र प्रताप सिंह की आदम कद प्रतिमा लगाने का अनुरोध किया गया, जिसके सम्बन्ध में मुख्यमंत्री ने इस पर सकारात्मक ढंग से विचार करने का आश्वासन दिया।


इससे पूर्व, मुख्य सचिव आलोक रंजन ने आनन्द कुमार की सराहना करते हुए ‘सुपर 30’ संस्था को उत्तर प्रदेश में भी संचालित करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि यद्यपि यह संस्था उत्तर प्रदेश के गरीब बच्चों की भी आईआईटी की तैयारी कराती है और अपने यहां चयन के लिए इस वर्ष प्रदेश के 11 स्थानों में यह संस्था परीक्षा कराने जा रही है। लेकिन यदि यह संस्था प्रदेश में ही अपनी शाखा स्थापित कर देगी तो इससे काफी संख्या में राज्य के गरीब बच्चों को आईआईटी में प्रवेश हासिल करने का मौका मिलेगा।


आनन्द कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री की पहल पर ‘सुपर 30’ संस्था ने उत्तर प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा गरीब मेधावी छात्र-छात्राओं को कोचिंग देने का फैसला लिया है। आगामी 19 जून को प्रदेश के 11 स्थानों पर संस्था द्वारा चयन परीक्षा आयोजित की जाएगी और इसमें उत्तीर्ण होने वाले सभी विद्यार्थियों को आईआईटी की प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराई जाएगी। उन्होंने प्रदेश सरकार की विभिन्न अभिनव योजनाओं की सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की देख-रेख में लागू की गई निःशुल्क लैपटाॅप वितरण योजना से राज्य के दूर-दराज के क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं के पास भी लैपटाॅप पहुंच गए। इसी प्रकार बालिकाओं के लिए संचालित कन्या विद्या धन योजना से भी बड़ी संख्या में छात्राओं को पढ़ने की प्रेरणा मिल रही है।


इस अवसर पर पुस्तक के लेखक बीजू मैथ्यू एवं प्रभात प्रकाशन के प्रकाशक डाॅ. पीयूष कुमार ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, सचिव मुख्यमंत्री पार्थ सारथी सेन शर्मा, बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं एवं अधिकारी उपस्थित थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top