Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

200 करोड़ की शर्त पर सुब्रत रॉय की पैरोल 11 जुलाई तक बढ़ी

 Tahlka News |  2016-05-11 11:09:24.0

subrato-royतहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली. सु्प्रीम कोर्ट ने सहारा ग्रुप के चीफ सुब्रत रॉय की पैरोल 11 जुलाई तक बढ़ा दी है। कोर्ट ने कहा है कि 11 जुलाई तक सहारा प्रमुख को सेबी के पास 200 करोड़ रुपए जमा कराने होंगे। अगर रॉय ऐसा नहीं करा पाते हैं, तो उन्‍हें फिर से सरेंडर करना होगा और दोबारा तिहाड़ भेज दिया जाएगा।

2014 में तिहाड़ में बंद थे सहारा प्रमुख
- इन्वेस्टर्स के पैसे नहीं लौटाने के कारण सुब्रत रॉय 4 मार्च, 2014 से तिहाड़ जेल में बंद थे।
- सीनियर एडवोकेट कपिल सिब्बल ने सुब्रत रॉय की ओर पैरोल के लिए अपील की थी।
- सुप्रीम कोर्ट ने सादे ड्रेस में पुलिस को सुब्रत रॉय के साथ रहने का आदेश भी दिया है।
- मार्केट रेग्युलेटर सेबी के साथ रॉय का लंबे समय से विवाद चल रहा है और कोर्ट के ऑर्डर पर वे जेल में थे।


रिहाई के लिए लगा चुके हैं गुहार
- सुब्रत रॉय ने बीते 27 अप्रैल को सु्प्रीम कोर्ट को बताया था कि जेल में उनकी तबीयत लगातार बिगड़ रही है और वह गर्मी को जेल में बर्दाश्त नहीं कर पाएंगे।
- सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वह सुब्रत रॉय को जेल से छोड़ने के लिए तैयार है, लेकिन पहले सेबी बताए कि वह उनकी प्रॉपर्टी बेचकर जरूरी रकम वसूल लेगा या नहीं।
- कोर्ट ने सहारा को दो हफ्ते के अंदर अपने एसेट्स का पूरा ब्योरा सेबी को देने को कहा।
- सहारा गुप को अपने इन्‍वेस्‍टर्स को लौटाने के लिए करीब 36 हजार करोड़ रुपए जुटाने है। यह रकम सेबी-सहारा अकाउंट में भुगतान के लिए जमा होगी।
- सुप्रीम कोर्ट उनकी अंतरिम जमानत के लिए 5 हजार करोड़ रुपए नकद जमा कराने और इतनी ही रकम की बैंक गारंटी देने को कह चुका है।


मां के अंतिम संस्कार में शामिल होने मिली थी पैरोल
- इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने बीते शुक्रवार को रॉय को 4 हफ्ते के लिए पैरोल पर रिहा करने का ऑर्डर दिया था।
- रॉय ने अपनी मां के अंतिम संस्‍कार में शामिल होने के लिए सुप्रीम कोर्ट से पैरोल मांगा था।
- उनकी मां छवि रॉय का लंबी बीमारी के बाद लखनऊ में निधन हो गया था।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top