Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

तो क्या स्वामी प्रसाद मौर्या बढ़ाएंगे योगी आदित्यनाथ की ताकत!

 Abhishek Tripathi |  2016-08-10 09:19:10.0

yogi_adityanathतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. बसपा के बागी नेता स्वामी प्रसाद मौर्या बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। मौर्या के पार्टी में आने से यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी मजबूत होगी, इस बात को नकारा नहीं जा सकता है। चर्चा है कि स्वामी प्रसाद मौर्या बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ की ताकत को बढ़ाएंगे। इससे योगी का दावा अब सीएम पद के लिए और भी मजबूत होगा। समर्थकों ने तो पहले से ही योगी को सीएम बनाने की डिमांड बड़े नेताओं के सामने रख दी है।


योगी के समर्थकों के एक खेमे को ये भी लगता है कि स्वामी प्रसाद को बीजेपी में मिल रही तवज्जो के कारण पूर्वांचल में योगी के वर्चस्व को कम करने की कोशिश बीजेपी का शीर्षनेतृत्व कर रहा है। ऐसे में ये देखने वाली बात होगी कि बीजेपी का आलाकमान पूर्वांंचल के इन दो महारथियों के बीच संतुलन कैसे बना पाता है।

बताते चलें कि गोरखपुर को योगी आदित्यनाथ का गढ़ माना जाता है। यहां की सत्ता से योगी को हिलाना संभव नहीं है। जबकि कुशीनगर संसदीय क्षेत्र पडरौना विधानसभा निवासी स्वामी प्रसाद मौर्या के बीजेपी में आ जाने से बीजेपी को लाभ होगा। बीजेपी से जो पिछड़ा वर्ग के वोटर बीएसपी से जुड़ गए थे, वह फिर से बीजेपी में आ जाएंगे। गोरखपुर व कुशीनगर से बीजेपी के विधायक जीतते है तो इसका सीधा लाभ योगी आदित्यनाथ को ही मिलेगा। यूपी में बीजेपी के सीएम लिस्ट में योगी का भी नाम शामिल है और जितनी सीट योगी के क्षेत्र से बीजेपी को मिलेगी, योगी को उतना ही अधिक फायदा होगा।


मायावती का बाउंसर! कांग्रेस और सपा के 4 मुस्लिम विधायकों को तोड़ा, BJP के पूर्व मंत्री भी हाथी पर सवार

बीजेपी में आने से पहले स्वामी प्रसाद मौर्या का अलग ही समीकरण था। वह बीजेपी और योगी को लेकर बयान देते रहते थे, लेकिन बीजेपी में आने के बाद से सारे समीकरण बदल गए हैं। योगी के गढ़ का एक प्रमुख बीएसपी नेता बीजेपी में शामिल हो गया है। जिसका सीधा लाभ योगी आदित्यनाथ को होना तय है।


योगी की सभाओं में बढ़ेगी भीड़
बीजेपी के स्टार प्रचारक में भी योगी आदित्यनाथ शामिल हैं। स्वामी प्रसाद मौर्या के बीजेपी में शामिल हो जाने से योगी की सभाओं में भीड़ बढ़ेगी। वहीं, पीएम मोदी ने भी गोरखपुर को एम्स व खाद कारखाने की सौगात दी है। इससे साफ हो जाता है कि गोरखपुर क्षेत्र भी पीएम के लिए कितना महत्वपूर्ण है। अब तो कुशीनगर के क्षेत्र में भी बीजेपी की अच्छी पकड़ हो चुकी है। ऐसे में पूर्वांचल के दो महत्वपूर्ण क्षेत्र में बीजेपी की ताकत बढऩे से यूपी चुनाव में फायदा होगा। बीजेपी को योगी आदित्यनाथ को बतौर सीएम प्रमोट करने में अधिक समस्या भी नहीं होगी।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top