Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

'ट्रैक फ्रैक्चर' बनी इंदौर-पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे की वजह

 Abhishek Tripathi |  2016-11-20 06:49:05.0

train_accidentतहलका न्यूज ब्यूरो
कानपुर. यूपी में कानपुर के समीप पुखरायां में इंदौर से पटना जा रही दुर्घटनाग्रस्त हुई इंदौर-पटना एक्सप्रेस में अब तक मृतकों की संख्या 96 हो गई है जबकि अब तक 76 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इसके साथ 150 लोगों को हल्की चोटें आई हैं। पटरी में दरार की आशंका के चलते ट्रेन के उतरने की आशंका जताई जा रही है।


रेलवे विभाग के जानकारों की मानें तो, मौसम में ठंड बढ़ने के साथ यह आम बात है। ऐसे में सुबह जिस वक्त एक्सीडेंट हुआ उस समय टेम्परेचर सबसे कम होता है। ऐसे में लोहे में सिकुड़न के चलते ट्रैक फ्रैक्चर होना स्वाभविक है। इसलिए कहा जा रहा है कि ट्रैक पेट्रोलिंग में लापरवाही हुई है। ट्रैकमैन और पीडब्लूआई की जिम्मेदारी होती है कि ट्रैक फ्रैक्चर पर निगाह बनाए रखें। वहीं, रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्रेन हादसे के लिए जिम्मेदार अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के आदेश दिए हैं।


मुआवजे का ऐलान
रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पीड़ितों को मुआवजे का ऐलान किया है। मृतकों के परिजनों को 3.5 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है। हादसे में गंभीर रूप से घायल यात्रियों को 50 हजार जबकि मामूली रूप से जख्मी लोगों को 25 हजार रुपये दिए जाएंगे। दूसरी तरफ यूपी सरकार ने मृतकों के परिवारों को 5 लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार जबकि मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये देने की घोषणा की है। पीएम मोदी ने भी पीड़ितों को मुआवजे का ऐलान किया है। मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये जबकि गंभीर रूप से घायलों को 50-50 रुपये दिए जाएंगे। ये रकम रेलवे की तरफ से दिए जा रहे मुआवजे से अलग होगी। मध्य प्रदेश सरकार ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये जबकि गंभीर रूप से घायल यात्रियों को 50-50 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top