Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

तृणमूल कांग्रेस का आरोप- सीएम ममता बनर्जी की हत्या की रची गई साजिश

 Girish Tiwari |  2016-12-01 06:13:51.0

mamata-banerjee

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली:
कोलकाता स्थित एनएससीबीआई हवाईअड्डे पर बुधवार रात निजी एयरलाइन कंपनी का एक विमान इंधन कम होनेे के बाद भी आधे घंटे से अधिक समय तक शहर के आसमान में चक्कर लगाता रहा, जिसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सवार थीं। जिस समय सीएम का विमान आसमान में चक्‍कर लगा रहा था उस दौरान उनके विमान में ईंधन भी कम था। इस पर तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यह पार्टी अध्यक्ष ममता बनर्जी को मारने का एक षड्यंत्र था।

वहीं, गुरुवार को संसद में सीएम ममता बनर्जी के प्लेन में ईंधन कम होने का मामला उठा। यह मामला टीएमसी के सुदीप बंधोपाध्याय ने उठाया। उन्होंने कहा कि ममता की जान को इससे खतरा हो सकता था, यह एक साजिश थी। इसकी जांच को लेकर लोकसभा और राज्यसभा के दोनों सदनों में हंगामा हुआ। सपा सांसद रामगोपाल यादव ने कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए और रिपोर्ट सदन में रखी जानी चाहिए।


वहीं जेडीयू सांसद शरद यादव ने कहा कि सरकार इसकी जांच के तुरंत आदेश दें। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने भी ममता बनर्जी फ्लाइट मामले का मुद्दा उठाया और जांच की मांग की। राज्यसभा में मायावती ने कहा, ममता बनर्जी की फ्लाइट का मामला बहुत गंभीर है। इस मामले की जांच होनी चाहिए।साजिश के आरोपों से इनकार करते हुए उड्डयन मंत्री ने माामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

राज्यसभा में जयंत सिन्हा ने कहा कि ट्रैफिक के वक्त विमान हवा में करीब 30 मिनट तक रहता है। इंडिगो और दूसरी फ्लाइट्स ने कहा है कि ईंधन की कमी थी। हम डीजीसीए के जरिए जांच कराएंगे। हम ये भी देखेंगे कि मामले की आपराधिक जांच हो सकती है या नहीं। ममता की फ्लाइट उतरने से पहले 2 और फ्लाइट उतरने वाली थी, जब तक ममता का प्लेन फ्यूल में कमी बताता तब तक 2 फ्लाइट को उतरने की इजाज़त दे दी गई थी। हर जान कीमती है।

वहीं, हवाईअड्डा अधिकारियों ने कहा कि विमान ने पटना से निर्धारित समय से एक घंटे देरी से शाम 7.35 बजे पर उड़ान भरी। कोलकाता में तकनीकी कारणों से आसमान में आधे घंटे से अधिक समय तक चक्कर लगाने के बाद रात नौ बजे से कुछ समय पहले उतर गया। अधिकारियों ने कहा कि किसी भी हवाईअड्डे पर ऐसी घटना कोई नई बात नहीं है।

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहद हकीम ममता के साथ उसी विमान में थे। उन्होंने यद्यपि विमान के उतरने के लिए एटीसी से ‘अनुमति मिलने में देरी’ पर कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने आरोप लगाया कि यह मुख्यमंत्री को मारने का एक षड्यंत्र है।

हकीम ने दावा किया कि पायलट ने कोलकाता से 180 किलोमीटर दूर घोषणा की थी कि विमान पांच मिनट के भीतर उतर जाएगा। विमान आखिर आधे घंटे से अधिक समय बाद उतरा।

उन्होंने कहा कि पायलट ने विमान को उतारने के लिए एटीसी से अनुमति मांगी। विमान में ईंधन कम था लेकिन एटीसी ने विमान को रोके रखा। हकीम ने कहा कि यह और कुछ नहीं बल्कि हमारे मुख्यमंत्री की हत्या का षड्यंत्र था क्योंकि उन्होंने नोटबंदी के खिलाफ आवाज उठाई है और जनविरोधी निर्णय के खिलाफ जन आंदोलन के लिए देश का दौरा कर रही हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top