Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

शिवपाल ने कहा- उत्तराखंड में चुनाव होना चाहिए था, राष्ट्रपति शासन नहीं

 Tahlka News |  2016-03-28 12:47:59.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
अमरोहा, 28 मार्च. कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन नहीं, बल्‍कि चुनाव कराना चाहिए था। उत्तराखंड में लोकतंत्र की हत्या हुई है। केंद्र सरकार ने अलोकतान्त्रिक तरीका अपनाकर राष्ट्रपति शासन लागू किया है।


कार्यक्रम में बोलते हुए शिवपाल ने कहा कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत कोई नई बात नहीं कह रहे। सभी देशवासी भारत माता की जय बोल रहे हैं। जहर उगलने वालों को यूपी की जनता बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्‍होंने कहा कि ओवैसी जैसी मानसिकता देश और प्रदेश में चलने वाली नहीं है। प्रदेश की जनता ओवैसी जैसो को नकार देगी।


दो दिवसीय दौरे पर मोहन भागवत
बता दें, आरएसएस चीफ मोहन भागवत दो दिवसीय दौरे पर सोमवार को राजधानी लखनऊ पहुंचे। चारबाग स्थित भारतीय किसान संघ के नए ऑफिस का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अापकी उपलब्धियों को देखकर लोग खुद ही भारत माता की जय बोलने लगे। इसे थोपने की जरुरत नहीं है।


एक दिवसीय दौरे पर ओवैसी
असदुद्दीन ओवैसी भी एक दिवसीय दौरे पर लखनऊ आए हुए हैं। ओवैसी को बीते 17 मार्च को यहां आना था, लेकिन उनकी सभा को जिला प्रशासन ने परमिशन देने से इनकार कर दिया था। अपने दौरे में ओवैसी लखनऊ से करीब 30 किलोमीटर दूर स्थित प्रसिद्ध देवाशरीफ जाएंगे, जहां वह हाजी वारिश अली शाह की मजार पर चादर चढ़ाएंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top