Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

देखें वीडियो: CM साहब! कुछ ऐसा हो सकता था आपका ड्रीम प्रोजेक्ट

 Abhishek Tripathi |  2016-10-08 05:12:15.0

cycle_trackअभिषेक त्रिपाठी
लखनऊ. साल 2012 में जब अखिलेश यादव की सरकार बनी तो यूपी के लोगों को उनसे काफी उम्मीदें थीं। सीएम पद की कुर्सी संभालने के बाद सीएम ने कई योजनाओं की घोषणा की। कुछ योजनाओं को मूर्त रूप भी दिया। कई ऐसी योजनाएं हैं जिसका काम अभी चल ही रहा है। इसी क्रम में सीएम का एक ड्रीम प्रोजेक्ट भी है, जो आम आदमी के लोगों के जीवन और हेल्थ से जुड़ा है। योजना का नाम है 'साइकिल ट्रैक योजना।' अब अपने ड्रीम प्रोजेक्ट के बारे में सीएम अखिलेश भी ज्यादा बात करते नहीं दिखते। सीएम अखिलेश ने अपनी टीम को साइकिल ट्रैक के बारे में विस्तार से पता करने के लिए नीदरलैंड भी भेजा। इसके बाद लखनऊ में साइकिल ट्रैक बनाने का काम शुरू हुआ, लेकिन हकीकत ये है कि साइकिल ट्रैक के नाम पर सिर्फ करोड़ों रुपए बेकार हुए। ज्यादातर साइकिल ट्रैकों पर आप पैदल भी नहीं चल सकते क्योंकि वहां पान की दुकानें और सब्जी की मंडियां लगी हुई हैं। कुछ ट्रैक पर बीच में बड़े-बड़े पेड़ हैं तो कई जगहों पर साइकिल ट्रैक पर मोटरसाइकिलें फर्राटा भरती हैं।




cycle_track1

सीएम अखिलेश को जाना चाहिए पोलैंड
पोलैंड में लोग साइकिल चलाने के शौकीन हैं। ऐसे में पोलैंड में एक शानदार तरीके से साइकिल ट्रैक बनाया गया है। पॉलैंड में लिडबार्क वारमिंस्की में एक ऐसी सड़क को बनाया गया है जो रात में चमकती है। इस सड़क को TPA Instytut Badan Technicznych Sp. z o.o. नाम की कंपनी ने बनाया है। सड़क को रात में चमकाने का काम सूरज की रोशनी करता है। दिन में सूरज की रोशनी से चार्ज होकर रात में सड़क पूरी तरह से चमकती है। ये नजारा यहां साइकिल चलाने वाले लोगों को काफी पसंद आया है।

cycle_track2

सीएम अखिलेश भी नहीं करते साइकिल ट्रैक की बात
यूपी चुनाव नजदीक है। सीएम अखिलेश आए दिन किसी न किसी जिले का दौरा करते हैं। अपने दौरे में सीएम अखिलेश पिछले साढ़े चार सालों में हुए विकास कार्य का बखान करते हैं। इसमें कोई शक नहीं कि विकास कार्य हुआ है। वहीं, दूसरी तरफ सीएम अखिलेश अपने एक ड्रीम प्रोजेक्ट साइकिल ट्रैक को लेकर कुछ नहीं बोलते। शायद ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें भी पता है कि साइकिल ट्रैक को वे मूर्त रूप नहीं दे पाए।

cycle_track3

यूपी के लोगों को नहीं किया जागरूक
सीएम अखिलेश ने साइकिल ट्रैक को लेकर कई योजनाएं बनाईं। अधिकारियों को विदेश भी भेजा। करोड़ों रुपए भी खर्च किए। वहीं, लोगों का मानना है कि सीएम अखिलेश ने सबकुछ किया लेकिन लोगों को जागरूक करना भूल गए। जानकीपुरम के रहने वाले अश्विन ने कहा कि यदि पहले लोगों को जागरूक किया जाता तो शायद सीएम अखिलेश का यह प्रोजेक्ट आज दुनिया के लिए मिसाल बन जाता।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top