Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी सरकार आतंकियों की सरपरस्ती कर रही है : कल्बे जवाद

 Sabahat Vijeta |  2016-04-08 16:28:05.0

kalbe javadतहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ, 8 अप्रैल. आल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य, एतिहासिक आसिफी मस्जिद के इमामे जुमा मौलाना कल्बे जवाद ने आज कहा कि सऊदी हुकूमत ने जो अवार्ड कभी मौलाना अली मिया नदवी को दिया था वही अवार्ड अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देकर दोनों को बराबरी पर खड़ा कर दिया है. मौलाना ने सवाल उठाया की सऊदी समर्थक मौलवी अब नरेन्द्र मोदी की आलोचना किस मुंह से करेंगे.


मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि अभी तक यह हालात थे कि अगर नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा में कोई एक वाक्य भी कह देता था तो मौलवी और मुस्लिम नेता उसके पीछे हाथ धोकर पड़ जाते थे मगर अब सऊदी समर्थक मौलवी नरेन्द्र मोदी को किस मुंह से बुरा कहेंगे क्योंकि सऊदी अरब सरकार ने उन्हें अपने सबसे बड़े उस सम्मान से अलंकृत कर दिया है जिससे वह इससे पहले मौलाना अबुल हसन अली नदवी (अली मिया) को सम्मानित कर चुका है. सऊदी सरकार ने मोदी को यह अवार्ड देकर मोदी को अली मिया वाले प्लेटफार्म पर खड़ा कर दिया है.


मौलाना कल्बे जवाद ने यूपी की अखिलेश यादव सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जुल्म और क्रूरता के आधार पर कोई सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चल सकती. यूपी सरकार को भी उसके अत्याचार और दुर्व्यवहार की सजा जरूर मिलेगी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार आतंकियों की सरपरस्ती कर रही है. यह सरकार आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों और फंडिंग करने वालों का स्वागत कर रही है. जबकि हमारी कौम को निशाना बनाया जा रहा है. उसे उसका जायज हक भी नही दिया जा रहा है.


मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि मुहर्रम में काले झंडों का विरोध पकिस्तान में सिपाहे सहाबा, अफगानिस्तान में तालिबान और अलकायदा और इराक में आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठन करते हैं. इस मोहर्रम में लखनऊ में काले झंडों का विरोध यहाँ की सरकार ने किया है. अज़ादारी पर प्रतिबन्ध के खिलाफ उन्होंने आवाज़ उठाई तो उनका पासपोर्ट ज़ब्त करने का नोटिस जारी कर दिया. उन्होंने कहा कि यूपी सरकार, लखनऊ का ज़िलाप्रशासन और पासपोर्ट अधिकारी मिलकर जो साज़िश रच रहे हैं उसका खामियाजा उन्हें चुनाव में भुगतना पड़ेगा.

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top