Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कक्षा एक से 8 तक के छात्र-छात्राओं को निःशुल्क स्कूल बैग देगी यूपी सरकार

 Sabahat Vijeta |  2016-08-17 15:50:26.0

akhilesh_yadav


लगभग एक करोड़ 85 लाख छात्र-छात्राओं को मिलेंगे बस्ते योजना पर 259 करोड़ रूपये व्यय होंगे


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में आज यहां सम्पन्न मंत्रिपरिषद की बैठक में कक्षा 1 से 8 तक के छात्र-छात्राओं को निःशुल्क स्कूल बैग उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई। यह स्कूल बैग कक्षा 1 से कक्षा 8 तक परिषदीय एवं सहायता प्राप्त जूनियर हाई-स्कूल, सहायता प्राप्त मदरसे, राजकीय इण्टर काॅलेज (कक्षा 6 से 8), सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों (कक्षा 1 से 8) के छात्र-छात्राओं को उपलब्ध कराया जाएगा।


निदेशक बेसिक शिक्षा द्वारा उपलब्ध करायी गयी छात्र संख्या (परिषदीय एवं सहायता प्राप्त जूनियर हाईस्कूल, सहायता प्राप्त मदरसे, राजकीय इण्टर काॅलेज (कक्षा-6 से 8), सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों (कक्षा 1 से 5 एवं कक्षा 6 से 8) के विवरण के अनुसार प्रदेश में कक्षा-1 से 8 तक के छात्र-छात्राओं हेतु अनुमानित मूल्य 140 रुपये प्रति स्कूल बैग के आधार पर स्कूल बैग क्रय किये जाने पर लगभग 1 करोड़ 85 लाख छात्र-छात्राओं हेतु 259 करोड़ रुपये व्यय होंगे।


ज्ञातव्य है कि लगभग 01 करोड़ 85 लाख छात्र-छात्राओं को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें तथा दो सेट यूनीफाॅर्म उपलब्ध करायी जाती है। इससे विद्यार्थियों के नामांकन में बढ़ोत्तरी, ड्राॅप आउट में कमी और शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार आया है। छात्र-छात्राओं को निःशुल्क स्कूल बैग उपलब्ध कराए जाने पर वे अपनी पाठ्य पुस्तकों को भली प्रकार रख सकेंगे। इससे उन्हें सुविधा रहेगी और पाठ्य पुस्तकों का रख-रखाव भी ठीक प्रकार से हो सकेगा। इसके दृष्टिगत राज्य सरकार ने बच्चों को निःशुल्क बस्ते उपलब्ध कराने का फैसला लिया है।


कक्षा 1-2 के लिए छोटे साइज (लम्बाई  14 इंच, चौड़ाई  10.5 इंच, गहराई 5 इंच), कक्षा 3-5 के लिए मध्यम साइज (लम्बाई  15 इंच, चौड़ाई  11.5 इंच, गहराई, 5.5 इंच), कक्षा 6-8 के लिए बड़े साइज (लम्बाई  16 इंच, चौड़ाई  12.5 इंच, गहराई 5.5 इंच) के स्कूल बैग मुहैया कराये जाएंगे। उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर छोटे साइज के लगभग 52 लाख, मध्यम साइज के लगभग 76 लाख तथा बड़े साइज के लगभग 57 लाख स्कूल बैग क्रय किये जाने होंगे।


राज्य स्तर पर स्कूल बैग के लिए निर्धारित विशिष्टियों पर स्कूल बैग की दर का निर्धारण एवं आपूर्तिकर्ताओं का चयन तथा मात्रा का आवंटन करने के लिए निविदा प्रक्रिया सम्पादित कराये जाने हेतु बेसिक शिक्षा निदेशक की अध्यक्षता में टेण्डर कमेटी का गठन किया जाएगा। निदेशक, मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण के प्रतिनिधि, राज्य परियोजना निदेशक, सर्व शिक्षा अभियान के प्रतिनिधि, वित्त नियंत्रक बेसिक शिक्षा निदेशालय कमेटी के सदस्य तथा सचिव बेसिक शिक्षा परिषद उ.प्र. इलाहाबाद सदस्य सचिव होंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top