Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

'साइकिल' पर चुनाव आयोग करेगा फैसला, ये हो सकते हैं विकल्‍प

 Girish |  2017-01-13 06:12:06.0

साइकिल पर चुनाव आयोग करेगा फैसला, ये हो सकते हैं विकल्‍प


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली: समाजवादी पार्टी में जारी घमासान के बीच चुनाव चिन्‍ह साइकिल किसकी होगी, इस बात का फैसला शुक्रवार को चुनाव आयोग करेगा। मुलायम और अखिलेश दोनों खेमों ने खुद को असली समाजवादी पार्टी बताते हुए साइकिल सिंबल पर अपना दावा ठोंका है।

इस बीच चुनाव आयोग में आज होने वाले फैसले से पहले दोनों गुट ने रणनीति पर काम करने के लिए गुरुवार को पूरे दिन कानूनी राय ली। अखिलेश गुट की ओर से रामगोपाल यादव और नरेश अग्रवाल इसकी जिम्‍मेदारी संभाल रहे हैं। वहीं मुलायम सिंह गुट की ओर से इसकी जिम्‍मेदारी अमर सिंह और शिवपाल यादव उठा रहे हैं।

सूत्रों की माने तो गुरुवार को भी दोनों गुट के बीच समझौते की कोशिश जारी रही। सूत्रों की माने तो अंतिम समय में दोनों गुटों को आपस में बातकर अयोग से आवेदन वापस लेने का आग्रह किया गया। दोनों गुटों के बीच बहुत सकारात्‍मक बातचीत हुई और कोई ठोस नतीजा निकलने के आसार है। अंतिम समय में यह रणनीति बनी कि आयोग से तीन चार दिनों का समय लेकर समझौत के लिए वक्‍त मांग ले और इस बीच दोनों गुट कोई आम समझौता प्‍लान तैयार कर लें। बात दें कि यूपी विधानसभा में पहले चरण के लिए 17 जनवरी से नॉमिनेशन की प्रकिया शुरू होगी।

यह है विकल्‍प और ऐसी होगी तस्‍वीर
- दोनों गुट साइकिल पर अपने अपने दावे पेश करें। आयोग दोनों गुटों की बात सुनेगा और कोई फैसला सुना दे साइकिल किस गुट को मिलेगा। हालांकि आयोग तत्‍काल शुक्रवार को ही कोई फैसला लेगा, इस बारे में संदेह है।
- अगर आयोग तत्‍काल फैसला नहीं लेता है तो दोनों गुटों को अलग-अलग सिंबल आवंटित हो जाएगा। जिसपर वह हालिया चुनाव लड़ेंगे।
- अगर कोई गुट अपना आवेदन वापस ले लेता है तो फिर विवाद समाप्‍त हो जाएगा और आयोग को कोई फैसला लेने की जरूरत लेने की जरूरत नहीं होगी।
- अगर साइकिल सिंबल पर दावा छोड़कर कोई गुट अपनी-अलग पार्टी बनाने की बात करता है। तब भी आयोग के सामने फैसला लेना आसान हो जाएगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top