Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अखिलेश सरकार ने अपात्र लोगों को दिया 'सम्‍मान', अब होगी जांच: सीएम योगी

 Girish |  2017-04-21 05:37:19.0

अखिलेश सरकार ने अपात्र लोगों को दिया सम्‍मान, अब होगी जांच: सीएम योगी




तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने संस्कृति विभाग के प्रजेंटेशन को देखने के बाद यश भारती पुरस्कार की गहनता से जांच करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा कि यश भारती पुरस्कार किन आधारों और मापदंडों पर दिए गए इसकी समीक्षा की जाए।

सीएम योगी ने कहा कि पुरस्कारों के वितरण के दौरान उसकी गरिमा का भी ध्यान रखा जाना चाहिए। अपात्रों को अनावश्यक पुरस्कृत करने से पुरस्कार की गरिमा गिरती है।

बता दें कि यश भारती राज्य का सबसे बड़ा सम्मान है। यह अवॉर्ड मुलायम सिंह यादव ने 1994 में शुरू किया था। इसमें यूपी से ताल्लुक रखने वाले ऐसे लोगों को दिया जाता है, जिन्होंने ने कला, संस्कृति, साहित्य या खेलकूद के क्षेत्र में देश के लिए नाम कमाया हो। इस पुरस्कार में 11 लाख रुपये के अलावा ताउम्र 50 हजार रुपये की पेंशन भी मिलती है।

इन चर्चित हस्तियों को भी मिल चुका है यश भारती सम्‍मान

- अमिताभ बच्चन
- हरिवंश राय बच्चन
- अभिषेक बच्चन
- जया बच्चन
- ऐश्वर्या राय बच्चन
- शुभा मुद्गल
- रेखा भारद्वाज
- रीता गांगुली
- कैलाश खेर
- अरुणिमा सिन्हा
- नवाज़ुद्दीन सिद्द़ीकी़
- नसीरूद्दीन शाह
- रविंद्र जैन
- भुवनेश्वर कुमार

हालांकि, पूर्व मुख्‍यमंत्री मायवाती ने अपनी सरकार आने पर यह पुरस्कार बंद कर दिए थे, लेकिन 2012 में अखिलेश यादव सरकार ने इसे दोबारा शुरू करवा दिया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top