Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मेरठ में मुसलमान की टोपी उतरवाई गई, इलाके में सांप्रदायिक तनाव

 Sonalika Azad |  2017-03-18 08:49:45.0

मेरठ में मुसलमान की टोपी उतरवाई गई, इलाके में सांप्रदायिक तनाव

तहलका न्यूज़ ब्यूरो.
लखनऊ.
यूपी विधान सभा के चुनावी अभियान में समाजवादी पार्टी के गुंडा राज को बड़ा मुद्दा बनाने वाली भारतीय जनता पार्टी को उसके ही कुछ नेता नीचा दिखने में जुट गए हैं। 11 मार्च को आये नतीजो के बाद तीन ऐसी बड़ी घटनाएँ भाजपा नेताओं ने की हैं जो गुंडा राज के उसके नारे के खिलाफ जाता दिखाई दे रहा है। ऐसे में भाजपा के उस दावे पर भी सवाल उठने लगे हैं, जिसमे वह सूबे में कानून का राज स्थापित करने की बात कहती रही है।


ताजा मामला पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शहर बुलंदशहर का है। यहां भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों के द्वारा जीत के जश्न के दौरान तनाव पैदा हो गया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जश्न के दौरान एक मस्जिद पर भाजपा का झंडा फहराने की कोशिश की, जिसके बाद यह तनाव की स्थिति पैदा हुई।


वही अगली घटना मेरठ की बताई जा रही है। वहां पर गुरुवार (16 मार्च) को टोपी को लेकर विवाद हो गया। खबरों के मुताबिक, वहां एक सब्जी बेचने वाला शख्स टोपी पहनकर आया हुआ था। इसपर बाइक सवार कुछ लोगों ने उसकी टोपी उतरवा दी। जब सब्जी वाले ने टोपी दोबारा पहनी तो उसको पीटा गया।


खबरों की माने तो इस घटना के बाद चचराई गांव की सुरक्षा बढ़ा दी गई है, इलाके में पुलिस और पीएसी को तैनात कर दिया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार रात करीब नौ बजे कुछ लोग जुलूस निकाल रहे थे, तभी कुछ लोग मस्जिद के सामने आकर बीजेपी का झंडा फहराने लगे और छत पर लगाने की कोशिश करने लगे, जिसके बाद दोनों पक्षों में झड़प हुई।


मौके पर पुलिस के पहुंचने के बाद वह लोग भाग गये, और दोबारा वापिस आने की धमकी दी। घटना के बाद जहांगीराबाद पुलिस स्टेशन के एसएचओ ने कहा कि मामले की जांच जारी है।


इससे पहले पहली घटना मिर्जापुर में हुयी जहाँ भाजपा ने नव निर्वाचित विधायक आरके पटेल के भतीजे ने खुलेआम गुंडागर्दी की और घर में घुस कर दो महिलाओं की जम कर पिटाई की। ये दोनों महिलाएं मुस्लिम समुदाय से ताल्लुक रखती थी और उनके परिजनों का किसी मामले में आरके पटेल के भतीजे से विवाद चल रहा था। विधायक के भतीजे ने चुनावी नतीजे आने के अगले ही दिन इस कांड को अंजाम दे दिया और भाजपा के सुशासन के नारे की धज्जियां उड़ा दी। इसके बाद आगरा के एक विधायक ने अपने चहेते को थाने से छुडवाने के लिए सीओ को फोन पर खूब धमकियाँ दी। इसका आडिओ भी वायरल हुआ और भाजपा की खूब किरकिरी हुई और उस दावे पर भी सवाल खड़ा हुआ जिसमे कहा जाता था की पुलिस को खुल कर काम काज की छूट होगी।








Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top