Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

डिज़िटल इण्डिया की थीम पर होगा पुस्तक मेला

 shabahat |  2017-03-29 13:46:20.0

डिज़िटल इण्डिया की थीम पर होगा पुस्तक मेला

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. मोती महल लान में इसी 7 अप्रैल से शुरू होने वाले होने वाले लखनऊ पुस्तक मेले में इस बार डिज़िटल इण्डिया की धूम होगी. पुस्तक मेले की थीम 'डिजिटल इण्डिया' होगी. इस पुस्तक मेले में एक तरफ तरह-तरह की किताबों की धूम होगी तो दूसरी तरफ शब्दभेदी बाण का कौशल भी देखने को मिलेगा. इस पुस्तक मेले में अनेक अध्यात्मिक आयोजनों के साथ-साथ नाट्य समारोह का आयोजन भी होगा. इस मौके पर विश्वविख्यात प्रेरक सूर्या सिन्हा से भी साक्षात्कार लिया जा सकेगा.

पुस्तक मेले के आयोजक मनोज सिंह चंदेल ने बताया कि 16 अप्रैल तक चलने वाले इस मेले का उद्घाटन सात अप्रैल को शाम साढ़े 5 बजे प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को आमंत्रित किया गया है. उनके साथ ही विशिष्ट अतिथि के रूप में राम कृष्ण मठ के प्रमुख स्वामी मुक्तिनाथानन्द, वरिष्ठ एडवोकेट बाबू रामजी दास, शिक्षाविद् जगदीश गांधी व सुलभ इंटरनेशनल के नियंत्रक अविनाश कुमार मौजूद रहेंगे. मेले में नई टेक्नालॉजी से छपी पुस्तकों के साथ मेले में ई-बुक, सीडी, डीवीडी, एमपी थ्री के भी अनेक स्टाल स्टेशनरी, टीचरों व स्कूलों के लिए उपयोगी सामग्री के होंगे. इस मेले में बहुत से नये प्रकाशक अपने साहित्य के साथ स्टालों पर होंगे. इस मेले में एक सौ से ऊपर स्टाल होंगे. मेले में आने वाले नये प्रकाशकों में सेज पब्लिकेशन दिल्ली, दिव्य प्रकाशन उत्तराखण्ड, 'हैप्पी साइंस' के लिए विख्यात आईआरएच प्रेस इण्डिया, ऑप्टिमम एजूकेटर्स, कोरस इण्डिया मुम्बई, अवतार मेहर बाबा, दि गिडोन्स इंटरनेशनल, डिज़ाइन और आर्ट बुक के चित्रलेखा कोलकाता, विलायत फाउण्डेशन, न्यू एज इंटरनेशनल, ईशा फाउण्डेशन कोयम्बटूर, बिन्दल पेपर्स, मेड ईजी पब्लिकेशन, पत्रिका पब्लिकेशन, अग्रवाल पब्लिकेशन आगरा, गार्गी प्रकाशन दिल्ली और अंजुमन प्रकाशन इलाहाबाद आदि प्रमुख हैं. मेले का समापन 16 अप्रैल को राज्यमंत्री स्वाति सिंह करेंगी.

मुख्य संरक्षक मुरलीधर आहूजा ने बताया कि मेले में कवि सम्मेलन-मुशायरे का आनन्द लेने के साथ लोगों को भाषाएं सीखने, लेखकों-कवियों के साथ बात करने के मौके मिलेंगे ही साथ ही पुस्तक प्रेमियों के लिए बुक लवर्स लाउंज भी होगा. स्थानीय लेखकों की पुस्तकों के लिए भी एक स्टाल होगा, ऑफीशियल सहयोगी रायल कैफे फूड जोन का संचालन करेंगे.

संरक्षक राजकुमार छाबड़ा ने बताया कि मेले में हमेशा की तरह प्रवेश निशुल्क होगा और मेला प्रतिदिन सुबह 11 बजे से रात नौ बजे तक चलेगा.

मेले के बारे में सहसंयोजक व उत्तरप्रदेश ओलम्पिक संघ के उपाध्यक्ष टीपी हवेलिया ने बताया कि इस वर्ष शान ए लखनऊ सम्मान शिक्षाविद जगदीश गांधी को दिया जाएगा. एकदम निःशुल्क प्रवेश वाले इस मेले में जहां इस पुस्तक मेले में किताबों पर न्यूनतम 10 प्रतिशत तक छूट हर खरीदार को मिलेगी वहीं पुस्तक प्रेमियों को बहुत कुछ नया देखने को मिलेगा. सहयोगी संस्था सुलभ इण्टरनेशनल के अविनाश कुमार ने बताया कि मेले के माध्यम से स्वच्छ भारत अभियान को गति प्रदान की जाएगी.

मनोज चंदेल ने बताया कि विद्यार्थियों को पुस्तकों के प्रति लगाव पैदा करने के मकसद से शहर भर के अनेक स्कूलों को मेले में आमंत्रित किया गया है. युवा पण्डाल के मंच पर बच्चों, किशोरों और युवाओं की गीत-संगीत, नृत्य व फैंसी ड्रेस इत्यादि की विविध प्रतियोगिताएं ज्योति किरन के संयोजन में रोज़ाना मध्याह्न 12 बजे से चलेंगी. इसके अलावा मुख्य सांस्कृतिक मंच पर रात तक नाटक, परिचर्चा, कवि सम्मेलन, मुशायरे, व्यंग्य पाठ आदि के बीच पाठकों और नये रचनाकारों के अनेक कार्यक्रम चलेंगे. मेले में साहित्यिक आयोजनो के बीच साहित्य प्रेमियों को हृदयनारायण दीक्षित, गोपाल चतुर्वेदी, सुधाकर अदीब, डा.उदयप्रताप सिंह आदि प्रसिद्ध लेखकों की रचना प्रक्रिया से अवगत होने और प्रश्न पूछकर अपनी जिज्ञासा शांत करने का मौका मिलेगा. मंच पर शीला पाण्डेय, रश्मि श्रीवास्तव, रामकिशोर आदि रचनाकारों की पुस्तकों का लोकार्पण इस मेले में होगा. थियेटर एण्ड फिल्म वेलफेयर एसोसिएशन के सहयोग से नाट्य समारोह के आयोजन का प्रयास भी किया जा रहा है.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top