Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी का कुख्यात अपराधी चन्दन सिंह गुजरात से गिरफ्तार

 Sabahat Vijeta |  2016-12-22 13:27:22.0

chandan-singh

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. पुलिस हिरासत से फरार हो चुके 50 हजार रूपये के इनामी अपराधी चन्दन सिंह को गुजरात के अहमदनगर से गिरफ्तार किया गया है. चन्दन सिंह पर उत्तर प्रदेश के विभिन्न थानों में 47 मुक़दमे दर्ज हैं. उत्तर प्रदेश की एसटीएफ टीम ने सटीक जानकारी मिलने के बाद चन्दन सिंह को गुजरात से दबोच लिया.

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के निवासी चन्दन सिंह उर्फ देवकीनन्दन सिंह पुत्र दीनानाथ सिंह के पास 4 मोबाइल फोन, 9,000/- नगद और एक एटीएम कार्ड के साथ पकड़ा गया है. जनपद गोरखपुर का यह कुख्यात अपराधी चन्दन सिंह बदायूॅ जेल में निरूद्धी के दौरान पहली जून 2016 को जेल से उपचार हेतु जिला चिकित्सालय, आगरा में लाये जाने के बाद अभिरक्षा हेतु लगे पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया था, जिसके सम्बन्ध में थाना-एमएम गेट, आगरा पर मुक़दमा संख्या -67/2016 धारा-223/224 भादवि पंजीकृत कराया गया था, जिस पर इस पुलिस महानिदेशक, उत्तर प्रदेश के स्तर से 50 हजार का पुरस्कार घोषित किया गया था तथा उच्चाधिकारियों द्वारा इस कुख्यात अपराधी की गिरफ्तारी के लिये एसटीएफ, उत्तर प्रदेश को निर्देशित किया गया था.


इस सम्बन्ध में अमित पाठक, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ, उ.प्र. लखनऊ द्वारा एसटीएफ, उत्तर प्रदेश की विभिन्न इकाईयों/टीमों को अभियान चलाकर अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था, जिसके अनुपालन में शहाब रशीद खान, अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में आलोक सिंह, पुलिस उपाधीक्षक द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी तथा अभिसूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया.

अभिसूचना संकलन के दौरान कुख्यात अपराधी चन्दन सिंह के सम्बन्ध में फरारी के दौरान जनपद-गोरखपुर, कुशीनगर, लखनऊ, इलाहाबाद, प्रतापगढ, सुल्तानपुर तथा अन्य प्रान्तों गुजरात, महाराष्ट्र, तमिलनाडू व केरल के अतिरिक्त नेपाल में रहकर ठेकेदारों/बिल्डरों व व्यापारियों से रंगदारी वसूलने की सूचनायें प्राप्त हो रही थी परन्तु किसी एक जगह स्थिर लोकेशन न होने के कारण इसकी गिरफ्तारी के प्रयास में जटिलता आ रही थी। इसको दृष्टिगत रखते हुए एसटीएफ मुख्यालय द्वारा स्थित टीम द्वारा इसके सम्भावित ठिकानो की एनेलेसिस प्रारम्भिक की गयी, जिसको अभिसूचना संकलन तथा जमीनी सूचनाओं से मिलान किया गया। प्राप्त अभिसूचनाओं को विकसित करने पर इस अपराधी की वर्तमान लोकेशन गुजरात प्रान्त के अहमदाबाद शहर में होने की सटीक जानकारी प्राप्त हुई, जिस पर तत्परता से आलोक सिंह, पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में एक टीम अहमदाबाद(गुजरात) के लिए रवाना की गयी. टीम द्वारा अहमदाबाद पहुॅचकर प्राप्त अभिसूचनाओं को विकसित करते हुए इस अभियुक्त के छिपने के ठिकानो को चिन्हित किया गया तथा अहमदाबाद(गुजरात) की क्राइम ब्राॅच को साथ लेकर प्राप्त अभिसूचनाओं को साझा किया गया. 21/22 दिसम्बर की रात्रि में इस अभियुक्त की मौजूदगी अहमदाबाद शहर के गीता मन्दिर बस स्टाॅप के समीप होने की सूचना प्राप्त होने पर टीम द्वारा वहाॅ पहुॅचकर घेराबन्दी की गयी तथा आवश्यक बल प्रयोग करते हुए अभियुक्त चन्दन सिंह उर्फ देवकी नन्दन को गिरफ्तार कर लिया गया.

पूछताछ पर गिरफ्तार अभियुक्त चन्दन सिंह उर्फ देवकी नन्दन ने बताया कि जिला अस्पताल, आगरा से फरार होने के बाद वह मथुरा होते हुए बस द्वारा दिल्ली पहुॅचा तथा फरारी के दौरान स्थान बदल-बदलकर दिल्ली, जयपुर, मुम्बई, तमिलनाडू, केरल व नेपाल इत्यादि स्थानो पर रहता रहा. इसी दौरान उसका सम्पर्क अपने गैंग के इनामी अपराधी रिंकू सिंह से हो गया, जिसके साथ गोरखपुर, कुशीनगर, लखनऊ, इलाहाबाद, प्रतापगढ, सुल्तानपुर आदि स्थानो पर शरण लेकर व्यापारियों, ठेकेदारों, बिल्डरों आदि को धमकी देकर अवैध वसूली करता रहा है.

लगभग 3 माह पूर्व सरसपुर इंडिया बुल, अहमदाबाद(गुजरात) में अजय सिंह नामक व्यक्ति की फर्जी आईडी पर 2 बीएचके का फ्लेैट किराये लेकर अपनी पहचान छिपाकर रहने लगा. इस दौरान सिवान(बिहार) जाकर वहाॅ के अपराधी सतीश पाण्डेय व अजहर भाई से मुलाकात की गयी तथा एके-47 व आधुनिक शस्त्र खरीदने का प्रयास किया गया. इसी दौरान वहाॅं अन्य अपराधियों से भी सम्पर्क स्थापित किया ताकि उसके द्वारा अपनी विरोधी व्यक्तियों का सफाया किया जा सके. इसी दौरान 8-10 दिन अहमदाबाद में रूककर वह महाराष्ट्र, तमिलनाडू व नेपाल आदि प्रान्तों में चला जाता था तथा कुछ समय बाद पुनः अहमदाबाद आ जाता था.

उल्लेखनीय है कि यह अभियुक्त इससे पूर्व 12 अगस्त 2013 को भी न्यायिक अभिरक्षा से थाना-जीआरपी, देवरिया से फरार हो गया था और इस फरारी के दौरान भी इसके द्वारा सनसनखेज अपराधों को अन्जाम दिया गया था. इस दौरान भी इस अभियुक्त पर पुलिस महानिदेशक, उत्तर प्रदेश के स्तर से रूपये 50 हजार का पुरस्कार घोषित किया गया था. इस अभियुक्त को 7-जुलाई -2013 को जनपद-बाराबंकी में उसके 4 साथियों सहित गिरफ्तार किया गया था.

चन्दन सिंह एक निरंकुश व महत्वकांशी अपराधी है. पूर्वी उत्तर प्रदेश में इसके गैंग में कई महत्वपूर्ण सदस्य अपराध की दुनिया में सक्रिय होना चाहते हैं. विगत तीन वर्षाे में इस गैंग के विरूद्ध एसटीएफ की मुख्यालय तथा गोरखपुर इकाई द्वारा सुनियोजित तरीके से कार्यवाही की गयी व तमाम अपराधियों को जेल भेजा गया व उनके विरूद्ध साक्ष्य उपलब्ध कराये गये. इसी क्रम में जनवरी,2015 में एसटीएफ से सैंकड़ों की जनता के बीच हुई मुठभेड़ में इस गैंग के सक्रिय सदस्य विजय हरिजन की मुठभेड़ में मृत्यु हो गयी थी. चन्दन सिंह ने अपने सम्बन्ध कई अन्य बड़े अपराधियों से जोड़ने की कोशिश की है किन्तु स्वयं के अस्तित्व को लेकर चन्दन सिंह लगातार प्रयासरत रहता है व अपराधजगत में अपने को प्रमुख रूप से स्थापित करना चाहता हैै. इसकी गिरफ्तारी से इसके गैंग की गतिविधियों पर अंकुश लगाने में मिली है.

चन्दन सिंह का अपराधिक इतिहास निम्न प्रकार हेैः-
1. मु0अ0सं0-750/2006 धारा-302 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
2. मु0अ0सं0-183/2007 धारा-307/120बी थाना पनियरा जनपद महराजगंज।
3. मु0अ0सं0-311/2007 धारा-3(1) उ0प्र0 गैंगेस्टर एक्ट थाना पनियरा जनपद महराजगंज।
4. मु0अ0सं0-752/2008 धारा-302/394/411भा0द0वि0 थाना पनियरा जनपद महराजगंज।
5. मु0अ0सं0-1128/2008 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना श्यामदेउरवा जनपद महराजगंज।
6. मु0अ0सं0-1208/2008 धारा-3/25 आम्र्स एक्ट थाना श्यामदेउरवा जनपद महराजगं।
7. मु0अ0सं0-659/2008 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना घुघली जनपद महराजगंज।
8. मु0अ0सं0-1136/2008 धारा-3(1) गैंगेस्टर एक्ट थाना घुघली जनपद महराजगंज।

9. मु0अ0सं0-1761/2009 धारा-147/148/149/307 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
10. मु0अ0सं0-86/2010 धारा-3/4 गुण्डा एक्ट थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
11. मु0अ0सं0-1016/2010 धारा-307/504 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
12. मु0अ0सं0-1059/2010 धारा-147/148/149/506/307 भा0द0वि0 व 7 सी0एल0ए0 एक्ट थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
13. मु0अ0सं0-509/2011 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना दुधारा जनपद संतकबीरनगर।
14. मु0अ0सं0-602/2011 धारा-3/25 आम्र्स एक्ट थाना दुधारा जनपद संतकबीरनगर।
15. मु0अ0सं0-589/2011 धारा-392 भा0द0वि0 थाना दुधारा जनपद संतकबीरनगर
16. मु0अ0सं0-18/2012 धारा-8/20 एन0डी0पी0एस0 एक्ट थाना गोरखनाथ जनपद गोरखपुर

17. मु0अ0सं0-577/2012 धारा-394 भा0द0वि0 थाना कोतवाली जनपद बस्ती।
18. मु0अ0सं0-250ए/2012 धारा-307/506 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
19. मु0अ0सं0-247/2012 धारा-379 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर।
20. मु0अ0सं0-380/2012 धारा-302/147/148/149 भा0द0वि0 थाना शाहपुर जनपद गोरखपुर।
21. मु0अ0सं0-939/2012 धारा-394/120बी/411 भा0द0वि0 थाना कोतवाली जनपद मऊ।
22. मु0अ0सं0-224/2012 धारा-379 भा0द0वि0 थाना चिलुआताल जनपद गोरखपुर
23. मु0अ0सं0-218/2012 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना बड़हलगंज जनपद गोरखपुर।
24. मु0अ0सं0-475/2012 धारा-147/148/149/302/506 भादवि व 7 सी0एलए0 एक्ट थाना-चिलुआताल, गोरखपुर।

25. मु0अ0सं0-399/2012 धारा-394/120बी भादवि थाना-कोतवाली, जनपद-मऊ।
26. मु0अ0सं0-1119/2012 धारा-392/307 भादवि थाना-कोतवाली-नगर, गोंडा।
27. मु0अ0सं0-15/2013 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना बड़हलगंज जनपद गोरखपुर।
28. मु0अ0सं0-113/2013 धारा-223/224 भा0द0वि0 थाना जी0आर0पी0 देवरिया।
29. मु0अ0सं0-277/2013 धारा-392/411 भा0द0वि0 थाना गोला जनपद गोरखपुर।
30. मु0अ0सं0-60/2013 धारा-3(1) गिरोहबन्द अधि0 थाना-शाहपुर, गोरखपुर।
31. मु0अ0सं0-75/2013 धारा-307/216ए/411 भादवि थाना-शाहपुर, गोरखपुर।
32. मु0अ0सं0-76/2013 धारा-3/25/27/7 आम्र्स एक्ट थाना-शाहपुर, गोरखपुर।
33. मु0अ0सं0-516/2014 धारा-302 भा0द0वि0 थाना खोराबार जनपद गोरखपुर।

34. मु0अ0सं0-109/2014 धारा-302 भा0द0वि0 थाना उरूवा जनपद गोरखपुर।
35. मु0अ0सं0-546/2014 धारा-386/507/427 भा0द0वि0 थाना षाहपुर जनपद गोरखपुर।
36. मु0अ0सं0-898/2014 धारा-115/153/386/506/120बी भा0द0वि0 व 66 आई0टी0 एक्ट थाना कोतवाली नगर जनपद बाराबंकी।
37. मु0अ0सं0-123/2014 धारा-307 भादवि व 7 सीएलए एक्ट थाना-कैन्ट, गोरखपुर।
38. मु0अ0सं0-125/2014 धारा-385/386/389/504/506/507 भादवि थाना-कैन्ट, गोरखपुर।3
39. मु0अ0सं0-399/2014 धारा-302 भादवि थाना-कैन्ट, गोरखपुर।
40. मु0.अ0सं0-208/2014 धारा-394/302/411 भादवि थाना-देवा, जनपद-बाराबंकी।
41. मु0अ0सं0-321/2014 धारा-392/411 भादवि थाना-गाजीपुर, लखनऊ।

42. मु0अ0सं0-621/2014 धारा-392/411 भादवि थाना-गाजीपुर, लखनऊ।
43. मु0अ0सं0-272/2014 धारा-392/411 भादवि थाना-गुडम्बा, लखनऊ।
44. मु0अ0सं0-236/2014 धारा-392/411 भादवि थाना-गुडम्बा, लखनऊ।
45. मु0अ0सं0-540/2014 धारा-386/504/506/507 भादवि थाना-कैन्ट, गोरखपुर।
46. मु0अ0सं0-100/2014 धारा-302 भादवि थाना-गुलहरिया, गोरखपुर।
47. मु0अ0सं0-67/2016 धारा-223/224 भादवि थाना-एम0एम0गेट, जनपद-आगरा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top