Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

उरी हमला: गृह मंत्री ने बुलाई हाईलेवल मीटिंग, NIA और गृह सचिव जाएंगे श्रीनगर

 Girish Tiwari |  2016-09-19 04:41:06.0

uri-attack-soldiers-ap_650x400_81474198111
नई दिल्ली.  केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षा स्थिति का जायजा लेने के लिए सोमवार को श्रीनगर जाएंगे। आधिकारिक सूत्र ने बताया कि इस दौरान उनके साथ राज्य सरकार के शीर्ष पुलिस अधिकारी भी रहेंगे। साथ ही हालात का जायजा लेने आज NIA की टीम भी  उरी जाएगी।


जम्मू एवं कश्मीर के उड़ी में आतंकवादी हमले और गृह मंत्री राजनाथ सिंह के निर्देशों के बाद महर्षि श्रीनगर जाएंगे। गृह सचिव राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और राज्यपाल एन.एन.वोहरा से भी मुलाकात करेंगे। महर्षि राज्य सरकार के अधिकारियों, सेना, पुलिस और अर्धसैनिक बलों के अधिकारियों के साथ सिलसिलेवार बैठकें करेंगे।


वहीं रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर श्रीनगर दौरे के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस हमले की रिपोर्ट सौंपेंगे, जबकि इस बीच गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक हाईलेवल मीटिंग बुलाई है।


आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों द्वारा किए गए इस हमले में सेना के 17 जवान शहीद हो गए जबकि चार आतंकवादियों को मार गिराया गया।


उरी हमले के पीछे एक बार फिर पाकिस्तान का हाथ होने के साफ संकेत मिल रहे हैं। गृह मंत्री ने 10 बजे दिन में मीटिंग बुलाई है, उसमें सीआरपीएफ के डीजी समेत गृहमंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहेंगे।इसके बाद रक्षा मंत्री पर्रिकर प्रधानमंत्री मोदी को हमले पर जानकारी देंगे. मारे गए आतंकियों के पास से मिले हथियारों पर मेड इन पाकिस्तान की मुहर लगी है।

आतंकी हमले में जवानों की मौत के बाद देशभर में आक्रोश है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस हमले के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि पाकिस्तान को अलग-थलग किया जाना चाहिए। जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए अलग-अलग शहरों में प्रदर्शन किए गए।

उरी में आर्मी बेस पर हुए आतंकी हमले के बाद शहीद सूबेदार करनैल सिंह के परिजन शोक में डूबे। उरी में आर्मी बेस पर हुए आतंकी हमले में घायल 22 जवान अस्पताल में भर्ती हैं।

सोमवार को सभी शहीद जवानों का पार्थिव शरीर श्रीनगर लाया जाएगा। आतंकी हमले के दौरान सेना की जवाबी कार्रवाई में सभी 4 आतंकी भी ढेर हो गए। मारे गए दहशतगर्द जैश-ए-मोहम्मद के हैं और उनके पास से पाकिस्तानी हथियार और दस्तावेज मिले हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top