Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बुरे फंसे विजय माल्या, #Passport हुआ निलंबित

 Tahlka News |  2016-04-15 11:21:46.0

vijay-mallya-759
तहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली, 15 अप्रैल. विजय माल्या की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है| उनका डिप्लोमेटिक पासपोर्ट निलंबित कर दिया गया है। प्रवर्तन निदेशालय की मांग पर रिजनल पासपोर्ट ऑफिस द्वारा उनके खिलाफ ये कार्रवाई की गई है।

बता दें कि, आईडीबीआई बैंक लोन और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में विजय माल्या को पिछले हफ्ते कोर्ट में पेश होना था, पर माल्या पेश न होकर मई तक की मोहलत मांगते रहे। इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ने विजय माल्या को लेकर कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है। पासपोर्ट निलंबित होने की सूरत में विजय माल्या के पास बचने का कोई रास्ता नहीं बचा है।

दरअसल, तीन बार समन देने के बावजूद माल्या ईडी के सामने पेश नहीं हुए हैं जिसके चलते पासपोर्ट जब्त करने की मांग की गई थी। इससे पहले बैंकों ने विजय माल्या के 4000 करोड़ रुपये के लोन सेटलमेंट का प्रस्ताव खारिज कर दिया था, जिसके बाद अब सुप्रीम कोर्ट ने विजय माल्या को 21 अप्रैल को अपनी संपत्ति का पूरा ब्यौरा देने के लिए कहा है।


वहीं, इस बीच लोन डिफॉल्ट करने वाली कंपनियों के प्रोमोटर्स के ऊपर जनता का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। एक ऑनलाइन याचिका के जरिए विजय माल्या जैसे कॉरपोरेट डिफॉल्टर के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाने की मांग की है। टेक्नोलॉजी प्लैटफॉर्म चेंज डॉट ओआरजी पर 1 लाख से ज्यादा लोगों ने ये याचिका दी है।

माल्या के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग की हो रही है जांच
ईडी का मुंबई क्षेत्रीय कार्यालय माल्या के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत आरोपों की जांच कर रहा है। समझा जाता है कि माल्या 2 मार्च को अपने राजनयिक पासपोर्ट के जरिये ब्रिटेन चले गए। राज्यसभा का सदस्य होने की वजह से उन्हें इस प्रकार का पासपोर्ट जारी किया गया है।

ब्रिटेन से माल्या के प्रत्यर्पण का आग्रह करेगा ईडी
सूत्रों ने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय के आग्रह को मंजूरी के बाद अब विदेश मंत्रालय ब्रिटेन के अधिकारियों को इसके बारे में सूचित करेगा और उनके भारत प्रत्यर्पण का आग्रह करेगा। माल्या को ईडी ने पहले 18 मार्च को पेश होने के लिए सम्मन दिया था। उसके बाद उन्हें 2 अप्रैल और 9 अप्रैल को जांच अधिकारी के सामने हाजिर होकर जांच में सहयोग करने को कहा गया। उन्होंने कर्ज को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मामले का हवाला देते हुए जांच में व्यक्तिगत रूप से शामिल होने में असमर्थता जताई। माल्या का पासपोर्ट रद्द होने पर ईडी सक्षम अदालत से उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने का आवेदन कर सकती है और इंटरपोल से उनके नाम का रेड कार्नर नोटिस जारी करा सकती है। उसके आधार पर उन्हें दुनिया में कहीं भी गिरफ्तार किया जा सकता है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top